हमारे देश में 1.7 करोड़ से अधिक महिलाएं ऐसी हैं जो घर से काम करती हैं। इन महिलाओं को अपने काम के लिए सामाजिक सुरक्षा या राष्ट्रीय बीमा का लाभ नहीं मिलता है।