भारतीय महिलाएं, मातृत्व और पेनल्टी

  दिल्ली / गुड़गांव: गुड़गांव के एक होटल के कॉन्फ्रेंस रूम में दो विशाल झूमर के नीचे, खूबसूरत कपड़े पहने हुई 250  महिलाएं जोर से ड्रम बजा रही हैं। तेज, धीमी गति से, जोर से, और फिर विराम। यह देखने से आसान सा लगता है। ईशारा मिलने पर एक साथ सीटी बजाते और एकजुट होकर … Continued

हरियाणा में स्कूटर पर दौड़ रही है महिलाओं की उम्मीद

मधुबन में हरियाणा पुलिस अकादमी में, ज्यादातर महिला ट्रेनी कांस्टेबल कहीं भी आने-जाने, यहां तक कि काम पर जाने के लिए अपने पतियों पर निर्भर करती हैं। हेड कांस्टेबल पिंकी उनकी इस आदत को बदलना चाहती हैं। कहती है, “मैं चाहती हूं कि ये लड़कियां ड्राइव करना सीखें, जिससे कहीं आने-जाने के लिए उन्हें किसी … Continued

कौशल और नौकरी की गारंटी महिला श्रम स्थिति में ला सकता है बदलाव

बेंगलुरु के एक कारखाने महिला परिधान श्रमिक। नवीनतम उद्योग सर्वेक्षण के मुताबिक परिधान उद्योग भारत में महिला श्रम की स्थिति में बेहतर सुधार कर सकता है, जैसा कि यह प्रति लाख निवेश पर 8.2 महिला रोजगार उत्पन्न करता है।   गुलबर्गा, कर्नाटक: शाम के साढ़े छह बजे हैं। एक महिला, जिसका नाम निर्मला है, अपने … Continued

थोड़ी सी मदद से ही बिहार की गरीब महिलाएं बदल रही हैं अपनी जिंदगी

मुसहर (दलितों के बीच भी छोटी जाती की माने जाने वाली जाति) जाति का एक रिक्शा खींचने वाले शख्स की विधवा अमोला देवी पिछले साल 1 करोड़ रुपए का वित्तीय लेनदेन करने में सफल हो पाई हैं। उनके परिवर्तन की कुंजी भारत का सबसे बड़ा स्वयं सहायता समूह है, जिनकी 8.2 मिलियन महिलाओं ने 64 मिलियन डॉलर की … Continued

भारत में जज से लेकर श्रमिकों तक यौन उत्पीड़न का दंश

  यातायात अदालत में हमेशा भीड़ रहती है और किसी भी मजिस्ट्रेट, पुरुष या महिला के लिए काम निपटाना कोई आसान काम नहीं है। छोटे-मोटे यातायात जुर्माने पर भी वकीलों से गालियां सुनने को मिलती हैं। जब उन्होंने मामूली यातायात अपराध के लिए एक प्रतिकूल आदेश पारित किया, तो युवा महिला मजिस्ट्रेट, अपने खिलाफ खुले … Continued

हिमाचल प्रदेश की महिलाएं क्यों करती हैं काम: एक जैम फैक्टरी के पास है इसका जवाब

हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिले में भुईरा जाम फैक्टरी  की महिला टीम। महिलाओं के एक नौकरी का मतलब है, नारी शक्ति का स्वाभिमान का साथ। यहां हर किसी के पास, यहां तक ​​कि अस्थायी कर्मचारी के पास भी एक बैंक खाता और डाकघर बचत योजनाएं हैं।   भुईरा, हिमाचल प्रदेश: उस सुबह हिमाचल प्रदेश के … Continued

भारत की शिक्षित महिलाएं ज्यादा छोड़ रही हैं नौकरियां

  नई दिल्ली / गुरुग्राम: 43 वर्षीय पारुल मित्तल एक शॉपिंग वेबसाइट के लिए काम कर रही थीं, जब उन्हें लगा कि वह कुछ रचनात्मक लिख सकती हैं और उन्हें लिखने पर ध्यान देना चाहिए। वह 2008 का साल था। वह 12 साल से एक कंपनी में मध्य प्रबंधन स्तर पर काम कर रही थीं … Continued

घरेलू कामों के दवाब से महिलाओं के लिए बाहर काम करना मुश्किल, मगर अब बदल रही है स्थिति

प्रशिक्षक निखिल कालेलकर की बातें सुनती महिलाएं। कालेलकर दो पहिया सवारियों के लिए एक स्टार्ट अप हेडीडी के साथ जुड़े हैं। यह कंपनी ‘भारत की पहली महिला तत्काल पार्सल डिलीवरी सेवा’ के रुप में शुरु की गई है। कुछ दिनों में इन महिलाओं को ऑनलाइन परीक्षा देनी है, जो कि लर्नर लाइसेंस पाने, अपनी दो … Continued

नौकरी पर महिलाएं : हरियाणा की एक फैक्टरी में उम्मीद के साथ परंपरा का टकराव

  सर्दी आने के साथ जैसे-जैसे दिन छोटे हो जाते हैं, निराश करने वाली यह वास्तविकता सामने आती जाती है कि उसकी पिछले कुछ समय से चल रही नौकरी समाप्त होने जा रही है।   उनका गांव हरियाणा के झज्जर जिले में सांपला बस स्टॉप से कुछ किलोमीटर दूर है। गर्मी में जब दिन बड़े … Continued

क्यों भारतीय कार्यस्थलों में कम हो रही है महिलाओं की संख्या – हमारी पड़ताल

वर्ष 2017 के पहले चार महीनों में हुई कुछ अहम घटनाओं पर शायद ज्यादा लोगों का ध्यान नहीं गया है। संस्था ‘सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी’ (सीएमआईई) के अनुसार, पुरुषों के लिए रोजगार में 0.09 करोड़ की वृद्धि हुई है, जबकि 0.24 करोड़ महिलाएं रोजगार के नक्शे से गायब हुई हैं।   सीएमआईई के प्रबंध … Continued