Top
अंजलि अपने दोनों बच्चों के साथ जिनके भरण पोषण की पूरी जिम्मेदारी अब उन्ही के कन्धों पर है। फोटो: साधिका तिवारी
महिलाएं

बाघ और बेरोज़गारी से जूझती सुंदरबन की महिलाएँ अकेले जीवन-यापन करने को मजबूर

सुंदरबन के इलाक़े कई में गांव ऐसे हैं जहां के पुरुष या तो जंगल में बाघ के शिकार बन गए हैं या फिर दुसरे शहरों में मजदूरी के लिए चले गए हैं। ऐसे में...

सरकार कहती है सबका साथ सबका विकास, मगर ये असल में नहीं हो पा रहा है
महिलाएं

'सरकार कहती है सबका साथ सबका विकास, मगर ये असल में नहीं हो पा रहा है'

नई दिल्ली: सरकारी आंकड़ों के अनुसार महिलाओं के खिलाफ हिंसा के आंकड़े लगातार बढ़ते जा रहे हैं, बाल-विवाह और दहेज प्रथा जैसी कुरीतियां आज भी बरकरार हैं।...