Top
पश्चिम बंगाल में दार्जिलिंग के एक चाय बागान में काम करने वाली रंजिता डे।  फोटो: साधिका तिवारी
West Bengal

पश्चिम बंगाल के चाय बागानों में अपने बच्चों को खोती माएं

पश्चिम बंगाल के चाय बागानों में काम करने वाले कुल कर्मचारियों में से लगभग 50% महिलाएँ हैं। चाय बागान में काम कर रही महिलाओं के पास मातृत्व सुविधाएँ,...

अंजलि अपने दोनों बच्चों के साथ जिनके भरण पोषण की पूरी जिम्मेदारी अब उन्ही के कन्धों पर है। फोटो: साधिका तिवारी
महिलाएं

बाघ और बेरोज़गारी से जूझती सुंदरबन की महिलाएँ अकेले जीवन-यापन करने को मजबूर

सुंदरबन के इलाक़े कई में गांव ऐसे हैं जहां के पुरुष या तो जंगल में बाघ के शिकार बन गए हैं या फिर दुसरे शहरों में मजदूरी के लिए चले गए हैं। ऐसे में...