Madhya Pradesh

मानेगांव और डूंगरिया के ग्रामीण ने अपनी मेहनत से एक बंजर ज़मीन पर दो लाख पेड़ लगाए और पिछले बीस सालों से उनकी देखभाल कर रहे हैं।
Madhya Pradesh

कैसे दो गाँव के लोगों ने बंजर ज़मीं पर बना दिया एक हरा-भरा जंगल

सागर जिले के गांवों में रहने वाले ग्रमीण एक ऐसी वनीकरण परियोजना पर काम कर रहे हैं, जिसे बीच में ही छोड़ दिया गया था। उन्होंने अपने फायदे के लिए इसका...

मध्य प्रदेश का आदिवासी गाँव जो अपनी ज़मीन की लड़ाई और उसके रखरखाव की प्रेरणा देता है
सामाजिक सेक्टर

मध्य प्रदेश का आदिवासी गाँव जो अपनी ज़मीन की लड़ाई और उसके रखरखाव की प्रेरणा देता है

फुलर गांव ने वन अधिकार अधिनियम के तहत लामबंद होकर, 200 हेक्टेयर भूमि अपने निवासियों को दिलाई है और फिर श्रमदान के जरिए उस भूमि को उपजाऊ भी बनाया।